गोण्डा महोत्सव-2018

सामान्य नियम

1. गोण्डा महोत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अन्तर्गत कुल सात प्रकार की प्रतियोगिताएं (गायन, नृत्य, रंगोली, मेंहदी, पेंटिंग, कलश सज्जा और वाद-विवाद) कराई जाएंगी।

2. खेल कार्यक्रमों में कुल पांच प्रतियोगिताएं (कबड्डी,वालीबाल,हाकी, ताइक्वाण्डो और खो-खो) हांगी।

3. सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करने के इच्छुक कलाकारों/टीमों से केवल आनलाइन आवेदन स्वीकार किए जाएंगे।

4. कबड्डी, वालीबाल और खो-खो की टीमों को खेल प्रतियोगिता के सह प्रभारी/जिला व्यायाम शिक्षक संजय सिंह (9455401292) के पास तथा ताइक्वाण्डो के बच्चों को ताइक्वाण्डो प्रशिक्षक प्रत्यूष राज के पास पंजीकरण कराना होगा।

5. हाकी की टीमें प्रख्यात हाकी खिलाड़ी लईक आलम (9415773855) से सम्पर्क करके पंजीकरण करा सकती हैं।

6. नृत्य एवं गायन प्रतियोगिता हेतु आडीशन तहसील स्तर पर आयोजित होंगे तथा आडीशन में सफल होने वाले प्रतिभागी अपना कार्यक्रम महोत्सव में कर सकेंगे।

7. गायन व नृत्य प्रतियोगिता जूनियर वर्ग (08-16 वर्ष) व सीनियर वर्ग (16 वर्ष से अधिक) में एकल और समूह में कराई जाएगी। प्रतियोगिता में यदि विद्यालय प्रतिभाग करते हैं तो कक्षा 10 तक के छात्र-छात्राएं जूनियर वर्ग में तथा कक्षा 11 व इससे ऊपर के छात्र-छात्राएं सीनियर वर्ग में माने जाएंगे। स्वतंत्र प्रतिभागियों के लिए आयु सीमा 50 वर्ष है।

8. समूह गायन व नृत्य में महिला-महिला, पुरुष-पुरुष के साथ ही मिश्रित जोड़े भी प्रतिभाग कर सकेंगे।

9. समूह गायन में प्रतिभागियों में अधिकतम संख्या 12 तथा समूह नृत्य में 15 से ज्यादा नहीं होगी।

10. सभी वर्गों के नृत्य एवं गायन के प्रतिभागियों को आडीशन में अधिकतम 02 मिनट तथा महोत्सव के दौरान मंच पर अधिकतम 05 मिनट का समय दिया जाएगा। प्रतिभागियों को तदनुसार अपने गीत का चयन करने की सलाह दी जाती है।

11. नृत्य के आडीशन में निर्णायकों द्वारा परिधान, गीत के बोल, ताल, हाव-भाव तथा मंच प्रस्तुतीकरण (पांच बिन्दुओं) को मानक बनाकर अंक दिए जाएंगे।

12. गायन के आडीशन में निर्णायकों द्वारा सुर, लय, ताल, गीत के बोल तथा प्रस्तुतीकरण (पांच बिन्दुओं) को मानक बनाकर अंक दिए जाएंगे। नृत्य अथवा गायन में फूहड़, अश्लील, द्विअर्थी तथा व्यक्ति विशेष को लक्ष्य करके गाए जाने वाले गीतों को प्रस्तुत करना कत्तई अनुमन्य नहीं होगा।

13. रंगोली प्रतियोगिता में अधिकतम छह प्रतिभागी शामिल हो सकते हैं। इसे 18 इंच त्रिज्या में बनाया जाएगा। रंगोली का समय 60 मिनट होगा। तैयारी के लिए 15 मिनट अतिरिक्त दिया जाएगा। विषय महोत्सव से पूर्व बताया जाएगा।

14. पेंटिंग, मेंहदी और कलश सज्जा में अधिकतम 2-2 प्रतिभागी शामिल होंगे, जबकि वाद-विवाद प्रतियोगिता में पक्ष-विपक्ष से 4-4 प्रतिभागी शामिल हो सकेंगे। पेंटिंग प्रतियोगिता भी किसी थीम पर आधारित होगी। विषय महोत्सव से पूर्व बता दिया जाएगा।

15. पेंटिंग, मेंहदी, कलश-सज्जा, रंगोली, वाद-विवाद प्रतियोगिताएं शहीदे आजम सरदार भगत सिंह इण्टर कालेज गोंडा में महोत्सव से पूर्व होंगी। विस्तृत जानकारी बाद में दी जाएगी।